पोस्ट

2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

वो कमरा

खरे लोग

पेंटिंग के पीछे की कहानी - 2

पेंटिंग के पीछे की कहानी - 1

देवीस्वरूपा

मन:स्थिति

उत्थान

अव्यवस्था

चुनौतियां

पानी के बुलबुलें

फ्रीडा

वो लड़की

गांठें

मन का घाट

रिक्त हाथ

उभरी आँखों वाला वो

विदा

मास्क

एक चिठ्ठी

आकाशगंगा

बहादूर बच्चे

काबिले तारीफ- ओडिशा

किताबें

पृथ्वी

उदास शाम

पापी पेट

सहेजे लोग

गर्भगृह

माँ

साँसें

तुम जीना

प्रार्थनाएं

अमृता और इमरोज़

इक्कीस दिन

बस दो हफ्ते

सुबह सुबह

जनता कर्फ्यू

न जाने क्या क्या देखा

वो लड़की

कोरोना वायरस

अर्द्धशतक

नदी का बांध हो जाना

चमकीली आँखों वाली लड़की

नीलकंठ

नीली आभा

मैं होना चाहती हूँ

माँ हूँ तुम्हारी

कैंसर

कैंसर

अनुपस्थिति

आता और जाता समय

शुक्रिया ईश्वर

प्रेम

विदा

जिंद़गी; ऊँट की करवट

लौ बाकी रखना

जिजिविषा